coronavirus Latest Social Stories

शिक्षा से शिखर तक

Shiksha se Shikhar Tak
Written by corres2

रजनी ढोडियाल जोशी, अध्यक्ष, शिक्षा से शिखर तक (NGO), जो कि समाज के निम्न वर्ग के उत्थान के लिये निरन्तर प्रयासरत है।

निम्न वर्ग के वो बच्चे जो आर्थिक स्थिति के कारण निरक्षर थे, नशे के आदी थे, उन बच्चो व उनके अभिभावकों को समझा बुझा कर विगत 5 वर्षों से  निशुल्क प्राथमिक शिक्षा के लिये तैयार करना। जिसमे संस्था के सदस्यों से प्रतिमाह Rs. 200 एकत्र करके उन निम्न वर्ग के बच्चों के लिए कॉपी, किताबें औऱ अन्य पाठ्य सामग्री उपलब्ध करवाई जाती है, जिसमे बच्चो का स्कूल मे दाखिला करवाना व आरटीई एक्ट के तहत उनके अधिकारों की लड़ाई लड़ना मुख्य रूप से शामिल हैं।

बच्चो को शिक्षा के अलावा आत्म-सुरक्षा, योगा, नृत्य, आर्ट एंड क्राफ्ट, विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों मे प्रतिभाग करवाना, महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम, स्वच्छ्ता कार्यक्रम, निशुल्क स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन, जागरुकता कार्यक्रम, संस्था के मुख्य कार्यो के रूप से शामिल है।

24 मार्च 2020 से संस्था अपने प्रयासों से NCR व वसुंधरा (गाज़ियाबाद) व कनावनी (नोएडा) गाँव मे माहमारी कोरोना के संकट के समय मे निरन्तर अपना योगदान दे रही है। जिसमे वो परिवार शामिल है जिनके परिवार मे 8 से 10 बच्चे तो है ही, साथ मे दिहाड़ी पर कार्य करने के लिए मजदूरी भी नहीं रही। कोरोना के इस दौर में उनका पूरा रोजगार समाप्त हो गया। उस स्थिति मे संस्था द्वारा आसपास के समाज के सहयोग से परिवारों को राशन मुहैया करवाया गया जिसमें हमारी संस्था मे पढ़ने वाले 60 से 70 बच्चो के परिवार भी शामिल थे।

जिसमे सूखी खाद्य सामग्री हो या तैयार खाना, उनके पहनने को चप्पल हो या राहत शिविरों द्वारा उन्हें help पहुँचाना NCR मे जरुरतमन्द परिवारों की सेवा कार्यो मे अपना योगदान दे रही है।

संस्था सदस्यों द्वारा भी संकट के इस दौर मे परिवारों की जिमेदारी लेकर बाँट ली गई है। ताकि कोई बच्चा भूखा न रहे। साथ ही इस वितरण के दौरान उन्हें त्रासदी माहमारी से कैसे बचाया जा सकें।

सबको जागरूक किया गया कि इस दौर मे वापस गाँव पलायन न करें। आने जाने वाली बसों, रेलों की सूचना जहाँ प्रवासियों को लेकर पास बनवाये जाने थे या बन रहे थे उन्हें पूर्ण जानकारी मुहैया करवाना अन्य सामाजिक सहयोग से भी अन्य राज्यो मे भी निरन्तर इन्हें अवगत करवाते रहे, जिससे कोई भ्रम की स्थिति पैदा न हो व मजदूरों का क्षेत्र से पलायन रुक जाए, के वास्तविक धरातल पर संस्था अग्रसर रही।

साथ ही प्रधानमंत्री जी की बाते, राज्यो द्वारा सहायता शिविरों, भोजनालयों, खाद्य सामग्री वितरण योजना स्थल, आर्थिक सहयोग, योजनाओं की पूर्ण जानकारी देकर उनके अधिकारों के लिये जागरूक किया गया।

हमारी टीम लगातार इस बीच क्षेत्र के दौरे करती रही, जिससे कोई परिवार अन्न से वंचित न हो।

साथ ही राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ को भी परिवारों तक पहुँचाने के लिए निरन्तर प्रयत्नशील रही। आज भी जरूरत के अवसर पर इस वर्ग के लिए निरन्तर प्रगतिशील है। ताकि कोई आसपास या सड़को पर भूखा न रहे।

About the author

corres2

Leave a Comment

x

COVID-19

India
Confirmed: 9,222,216Deaths: 134,699
x

COVID-19

World
Confirmed: 59,750,988Deaths: 1,409,160